शेयर करें

imagesवेंकैया नायडू जी ने कांग्रेस का बगैर नाम लेते हुए कहा कि ये लोग कहते हैं कि हमने सब कुछ किया है, सब का भला कर दिया था वहीँ दूसरी तरफ कहते हैं कि देश में अनपढ़ लोग ज्यादा हैं, गरीब लोग ज्यादा हैं, दलित परेशान हैं, आदिवासी परेशान हैं। एक तरफ तो ये लोग कहते हैं कि सबकुछ कर दिया, सब हो गया, सबको न्याय दिया, आदिवासी को न्याय दिया, हरिजन को को न्याय दिया, दलित को न्याय दिया, किसानो को न्याय दिया, सबका भला हुआ वहीँ दूसरी तरफ ये कहते हैं कि कुछ नहीं हुआ। वेंकैया ने कहा कि अगर आपके ज़माने में सब कुछ हो गया था, सबका भला हो गया था, सब शिक्षित हो गए थे तो भैया हमें तो आये केवल 18 महीने हुए हैं, 18 महीने में सभी लोग फिर से अशिक्षित हो गए क्या? जो लोग आपके समय में पढ़े लिखे थे वे 18 महीने में फिर से अनपढ़ हो गए क्या? अरे भैया बोलने से पहले थोडा सोच तो लिया करो। थोडा तर्क हो तभी बोला कीजिये।

वेंकैया के इतना कहते ही सभी बीजेपी संसद और प्रधानमंत्री मोदी हंसने लगे, यहाँ तक कि लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन भी अपनी हंसी नहीं रोक पायीं वहीं कांग्रेस नेता खड्गे फिर से झल्ला गये और उठकर हल्ला करने लगे।

Also Read:  मातृ दिवस इसका इतिहास और सामाजिक औचित्य !

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें