FDI VS. Domestic savings (NEXT RTI EXPOSE)

FDI VS. Domestic savings (NEXT RTI EXPOSE)

278
0
SHARE
NEXT RTI EXPOSE

१४ साल में भारत में कुल FDI आया १०.५ लाख करोड़.. (प्रति साल एवरेज करें तो ०.७ लाख करोड़)

जबकि भारत में प्रति वर्ष सेविंग की जाती है लगभग ३० लाख करोड़ रूपये की.

जब भारत के पास पैसा देश में हि मौजूद है तो ये सरकार और सारे नेता क्यूँ FDI के पीछे भागते हैं ???

अगला EXPOSE RTI के माध्यम से…

सरकारी आंकडें सब सबूतों के साथ.. 

Also Read:  India can export fighter planes, missiles: DRDO chief

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY