शेयर करें

आर्थिक तंगीएक मित्र का घर है
आर्थिक तंगी से व् मन्दी से बहुत दुखी है । हर वक्त पैसा को रोता रहता है । दिन रात बीवी बच्चे माँ बाप परिवार सबको छोड़ पैसे की दौड़ में लगा है ।

कृपया उसका गृह खर्च देखकर समझाएं की वो क्या उपाय करे

घर का खर्च महीने का 40000 के लगभग ।

जिसमे

1 कामवाली झाड़ू पोछा बर्तन इत्यादि (2000₹ महीना)

2 प्रेस कपड़े (600 ₹ महीना)

3 मोबाइल फोन बिल 500₹ प्रति व्यक्ति 4 सदस्य (2000₹ महीना)

4 बिजली बिल (6000 ₹ महीना साल की औसत) ac लगें हैं 1 से ज्यादा ।

5 गैस का cyclinder (800 ₹ महीना)

6 पानी का बिल (300₹ महीना)

7 टीवी केबल (300₹ महीना)

8 इन्टरनेट (1200₹ महीना)

9 दूध , फल , सब्जी, आटा दाल चावल (5000+ 3000+ 4000+3000) =15000₹ मान लिजिये ।

10 दवाई (2000 ₹ महीना)

11 स्कूल फीस (5000₹ महीना)

12 ट्यूशन फीस (2000₹ महीना)

मोटे तौर पर यह सब (बाकी अन्य खर्चे भी हैं)

क्या आप बता सकते हैं कि वो कैसे बचत कर सकता है इन सभी में या और क्या हो सकता है बचत का ?

अगर व्यक्ति के पास अत्यधिक धन हो तो यह सब उसे जायज लगता है.. और वो इसे जरूरत बताने लगता है..

अगर व्यक्ति के पास कम धन हो तो वो इसे फिजूल खर्ची कह कर कटौती करता है.

लेकिन एक समान्य व्यक्ति क्या कहेगा ?

1 घर के 5 सदस्य (5 कमरे से ज्यादा तो नहीं होंगे, सभी स्वयम अपने कमरे में झाड़ू पोचा कार्नेगी प्रतिदिन ) सभी अपने बर्तन स्वयम खाने के बाद धोयेंगे. कामवाली बाई का खर्च समाप्त.

Also Read:  देशभक्ति गीत चन्दन है इस देश की माटी

2 केबल टीवी की जगह सरकारी फ्री दिश टीवी है जिसका महीने का शुल्क कोई नहीं, चैनल इतने जितने आपके लिए जरूरी, विलासिता और मुर्खता की तो कोई सीमा नहीं.

3 ट्यूशन हटवाएं, स्वयम पढाएं बच्चों को.

4 प्राइवेट स्कूल की जगह बच्चों को अच्छे गुरुकुल में भर्ती करवाएं.. इतने पैसे से तो आप सभी अभिभावक अपना गुरुकुल भी स्थापित कर सकते हो..

5 प्रेस सब अपने कपडे स्वयं करें.

6 सौर उर्जा पनाएं, बिजली के बिल से मुक्ति पाएं..

7 पानी के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग करें.

8 सब्जी घर के अंगन या छत पर उगायें (आधा बिल तो बचेगा),

9 घर में गाय के गोबर से गोबर गैस प्लांट लगायें, गोबर की खाद भी बनेगी जो सब्जी में खाद का काम करेगी.

अच्छा खायेंगे, स्वयं के शरीर को चलाएंगे, टीवी कम देखेंगी तो बीमार भी कम पड़ेंगे और दवाइयां भी कम ही आयेंगी ….

क्या ये कहानी आपके घर की है ?

आज के पढ़े लिखे थोड़े से धन कमाने वाले माध्यम वर्गीय परिवार का सच है ये ..

उसकी पढाई ने उसे मुर्ख बना दिया ….

क्या आप भी इसी मुर्खता में लगे हैं ?? सच सच कहें की क्या आप और हम सही राह पर हैं ???

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें