सच्चे स्वराज की रुपरेखा राजीव दीक्षित

सच्चे स्वराज की रुपरेखा राजीव दीक्षित

719
0
SHARE

पुस्तक सच्चे स्वराज की रुपरेखा

राजीव दीक्षित

प्रकाशकीय

आज हमारे देश भारत की स्थिति एक ऐसे असहाय यात्री जैसी हो गई है जो घने जंगल में अपना रास्ता भूल गया है और उसे जंगली जानवरों के बीच से वापस सुरक्षित लौटने की कोई आशा नहीं है

आजादी के बाद 50 सालों तक भारत एक ऐसे गलत रास्ते पर चलता रहा है जहां से अब सच्चे स्वराज्य का रास्ता किसी को सूझ नहीं रहा है

गरीबी

भुखमरी

बेरोजगारी

भ्रष्टाचार

सामाजिक तनाव एवं झगड़े

आतंकवाद

राजनैतिक अक्षमता

विदेशी कर्जा

देश के संसाधनों की लूट

अन्याय और शोषण के बोझ तले दबी हुई जनता

यह सभी वे समस्याएं हैं जिनका समाधान कब तक हो जाना चाहिए था लेकिन गत 50 वर्षों की गलत नीतियों और गलत योजनाओं के कारण यह सभी समस्याएं बढ़ती ही जा रही है

ऐसी परिस्थिति में आजादी बचाओ आंदोलन के राष्ट्रीय प्रवक्ता भाई श्री राजीव दीक्षित जी ने आंदोलन के ढेर सारे वरिष्ठ साथियों के साथ सोच विचार करके और लंबी बहस के बाद योजनाओं का एक 50 स्तरीय ढांचा तैयार किया है

यह सभी योजनाएं बहुत ही व्यवहारिक और आसान समाधान प्रस्तुत करती है

भारत में सच्चा स्वराज लाने के लिए इन योजनाओं के लागू होने पर यहां के लोगों की

गरीबी

बेरोजगारी

भुखमरी और

असमानता जैसी समस्याएं बहुत जल्दी ही दूर हो सकती है और हमारे गांव कुटीर और लघु उद्योगों से भरे पूरे समृद्धशाली हो सकते हैं

देश के लोगों की मायूसी उत्साह में बदल सकती है

देश के लोगों को सच्चे स्वराज्य का अनुभव हो सकता है

Also Read:  21 22 नवंबर दिल्ली गुडगाँव में राजीव दीक्षित जी का शिविर

हमारा देश भारत दुनिया में सबसे अधिक शक्तिशाली और समृद्ध बन सकता है

सच्चे स्वराज्य की रुपरेखा नाम की इस पुस्तिका में हम ने अपनी समझ के अनुसार उन सभी योजनाओं को शब्द देने की कोशिश की है जो श्री राजीव दीक्षित जी द्वारा बनाई गई है

इस पुस्तिका में कई ऐसे स्थान है जहां पर पूरी व्याख्या नहीं की गई है वह सिर्फ शीर्षक देकर छोड़ दिया गया है

जितना मुझे समझ में आया मैंने उतने ही हिस्से का विस्तार करने की कोशिश की है

यदि कहीं कोई गलती हो उसके लिए पूरी जिम्मेदारी मेरी है

इन सभी योजनाओं में देश के पुनर्निर्माण के लिए जो भी उत्तम और उपयोगी है उसका पूरा श्रेय श्री राजीव दीक्षित जी को है

इस पुस्तिका में जो दिशा दिखाई गई है आजादी बचाओ आंदोलन देश को उसी दिशा में ले जाना चाहता है

आजादी बचाओ आंदोलन सिर्फ विदेशी कंपनियों को भारत से भगाने और स्वदेशी वस्तुओं का प्रचार करने तक सीमित नहीं है

यह तो आंदोलन की कार्य योजना का एक छोटा सा हिस्सा है

वास्तव में तो आजादी बचाओ आंदोलन भारत की

राजनैतिक

आर्थिक व्यवस्था में क्रांतिकारी परिवर्तन करना चाहता है

इसके साथ

भारतीय न्याय व्यवस्था

शिक्षा व्यवस्था

कृषि व्यवस्था

प्रशासनिक व्यवस्था

आदि में भी आमूलचूल बदलाव करना चाहता है

यह कार्य लोगों के बीच में बहुत बड़े पैमाने पर जन शिक्षण अभियान चला कर ही किया जा सकता है

सच्चे स्वराज्य का लक्ष्य पाने के लिए प्रत्येक देश भक्त व्यक्ति को प्रयास करना होगा

इसमें कुछ खोने के लिए कुर्बानी के लिए भी तैयार रहना होगा

Also Read:  सच्चे स्वराज की रुपरेखा २

क्योंकि किसी भी बड़े लक्ष्य को बिना बलिदान के हासिल नहीं किया जाता है

हम में से कोई भी ऐसा दावा नहीं कर सकता है की इस सच्चे स्वराज्य की यह कार्य योजना संपूर्ण और त्रुटिरहित है

यह अधूरी हो सकती है इसमें कुछ गलती हो सकती है

यह कार्य योजना आपके विचारों एवं सुझाव के लिए प्रस्तुत है

आप इसे पूर्ण करने में और बेहतर बनाने में मदद करें

आप सभी के सुझावों और टिप्पणियों का हमेशा स्वागत है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY