रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं

857
1
SHARE

immunityHow to Increase your Immunity?

बीमार होना मतलब दवाई का खर्च डॉक्टर का खर्च, समय बर्बाद, शरीर के अंगो की बर्बादी और न जाने क्या क्या बर्बादी..

इसलिए ही सम्भवतः भारत की संस्कृति में आयुर्वेद है.. जो कहता है की बीमार कैसे न पड़ें..

यानि दिन प्रतिदिन कुछ ऐसा करें , ऐसा खाएं, ऐसा पियें की रोग निकट ही न आये..

  1. स्वच्छता में रहें व् जियें, सूअर की तरह गंदगी में रहेंगे तो बीमार ही पड़ोगे.
  2. ज्यादा से ज्यादा पानी (शुद्ध) पियें, उबाल कर पानी पीना काफी हद तक शुद्ध हो जाता है. (ठंडा जल व् ठंडी वस्तु न खाएं कोई भी )
  3. गेहूं की जगह ज्वार, बाजरा खाएं. मोटा अनाज खायोगे तो तंदरुस्त बनोगे और हाँ चोकर के साथ ही खाएं
  4. लहसुन की २ कलियाँ प्रतिदिन सेवन करें. जुकाम और कैंसर से बचे रहेंगे. सब्जी पकने के बाद उसमे कच्चा लहसुन दाल कर सेवन करें.
  5. हल्दी भोजन में हर सब्जी में लें. दूध पिते हो तो गर्म दूध में ले.
  6. अदरक का सेवन प्रतिदिन करें.
  7. चीनी और चीनी से बने उत्पाद बिलकुल बंद कर दें अगर डायबिटीज से बचना है तो.
  8. फल और सब्जी (मौसम के व् आपके क्षेत्र के उत्पादित ), विदेशी और बेमौसमी वस्तुएं हानिकारक ही होंगी.. सब्जियों का रस यानि गर्म सूप बहुत फायदेमंद है, बस उसमे नमक चीनी इत्यादि न डालें.
  9. मैदा का त्याग कर दें.
  10. नमक वैसे तो न ही खाएं, लेकिन यह मुश्किल हो तो सिर्फ सेंधा नमक ही खाएं.
  11. amla, निम्बू, संतरा, मौसमी, खट्टे फल जरुर खाएं इसमें विटामिन c होता है
  12. नट्स यानि मूंगफली, अखरोट, काजू पिस्ता, बादाम इत्यादि
  13. आलू
  14. मशरुम
  15. ३-५ पत्ते तुलसी रोज सुबह चबाएं
Also Read:  101 स्वदेशी चिकित्सा 1 राजीव दीक्षित

बाकी तो आप हंसे हंसाये

योग प्राणायाम करें

शुद्ध हवा में जियें

शुद्ध पानी पियें

शुद्ध साग सब्जी फल का सेवन करें..

पांच घर में आसानी से बनाए जानेवाले घरेलू उपाय जिनकी मदद से आप सर्दी-जुकाम से चंद घंटों में निजात पा सकते हैं।

दूध और हल्दी: गर्म पानी या फिर गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से सर्दी जुकाम में तेजी से फायदा होता है। यह नुस्खा ना सिर्फ बच्चों बल्कि बड़ों के लिए भी कारगर साबित होता है। हल्दी एंटी वायरल और एंटी बैक्टेरियल होता है जो सर्दी जुकाम से लड़ने में काफी मददगार होता है।

अदरख की चाय: अदरख के यूं तो कई फायदे है लेकिन अदरख की चाय सर्दी-जुकाम में भारी राहत प्रदान करती है।  सर्दी-जुकाम या फिर फ्लू के सिम्टम में ताजा अदरख को बिल्कुल बारीक कर ले और उसमें एक कप गरम पानी या दूध मिलाए। उसे कुछ देर तक उबलने के बाद पीए। यह नुस्खा आपको सर्दी जुकाम से राहत पाने में तेजी से मदद करता है।

नींबू और शहद: नींबू और शहद के इस्तेमाल से सर्दी और जुकाम में फायदा होता है। दो चम्मच शहद में एक चम्मच नींबू का रस एक ग्लास गुनगुने पानी या फिर गर्म दूध में मिलाकर पीने से इसमें काफी लाभ होता है।

लहसुन: लहसुन सर्दी-जुकाम से लड़ने में काफी मददगार होता है। लहसुन में एलिसिन नामक एक रसायण होता है जो एंडी बैक्टेरियल, एंटी वायरल और एंटी फंगल होता है। लहसुन की पांच कलियों को घी में भुनकर खाए। ऐसा एक दो बार करने से जुकाम में आराम मिल जाता है। सर्दी जुकाम के संक्रमण को लहसुन तेजी से दूर करता है।

Also Read:  Yog Gram Patanjali Shailender ji

तुलसी पत्ता और अदरख: तुलसी और अदरख को सर्दी-जुकाम के लिए रामबाण माना जाता है। इसके सेवन से इसमें तुरंत राहत मिलती है। एक कप गर्म पानी में तुलसी की पांच-सात पत्तियां ले। उसमें अदरख के एक टुकड़े को भी डाल दे। उसे कुछ देर तक उबलने दे और उसका काढ़ा बना ले। जब पानी बिल्कुल आधा रह जाए तो इसे आप धीरे-धीरे पी ले। यह नुस्खा बच्चों के साथ बड़ों को भी सर्दी-जुकाम में राहत दिलाने के लिए असरदार होता है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY