भारत का सबसे बड़ा टैक्स रिफार्म gst नही arthakranti है

भारत का सबसे बड़ा टैक्स रिफार्म gst नही arthakranti है

2870
0
SHARE
arthakranti-logo
arthakranti-logo

Gst बिल
का बिकाऊ मीडिया द्वारा प्रचार

भारत का सबसे बड़ा टैक्स रिफार्म

बिलकुल बकवास ।

आप स्वयं निर्णय कीजिये ।

1 क्या आप और हम जो टैक्स अलग अलग नाम से देते थे क्या वो कम हो जाएंगे ?

उत्तर थोड़ा बहुत अंतर पड़ेगा ।
टैक्स का नाम बदल गया , गिनती कम हो गयी । थोड़ी सुविधा होगी सरकार को और जनता को टैक्स कलेक्ट करने में। लेकिन जनता को टैक्स कम लगेगा यह सोचना मूर्खता ही होगी ।
2 फिर ये टैक्स रिफार्म के नाम से क्यों प्रचार ?

क्योंकि हमारे देश के बीके हुए नेता और बिकी हुई मीडिया के मालिक जो आज भी अंग्रेज हैं (यह सत्य है) उनका आदेश हुआ की जनता को बेवकूफ बनाओ, टैक्स के नाम पर कुछ गिनती घटाओ जैसे 18 तरह के टैक्स समाप्त होंगे और 1 टैक्स लगेगा । जनता मुर्ख ही होती है , आराम से मुर्ख बन जायेगी ।

3 टैक्स रिफार्म क्या होगा फिर ? किस होना चाहिए ?

हमारे देश में जितना भी टैक्स है उसमें आज एक भिखारी भी टैक्स देता है जब वो कोई समान खरीदता है (indirect रूप में सेल्स टैक्स इत्यादि).
भारत में 80% जनता 20 रूपये प्रतिदिन से भी कम कमाती है (अर्जुन सेन गुप्ता कमीशन की सरकारी रिपोर्ट ही है 2005 कि शायद )

जिस देश में इतनी गरीबी हो उस देश में गरीब पर टैक्स लगाना कितना उचित है ? खासकर जब तेंदुलकर जैसे महान लोग विदेश से गाडी लाने पर टैक्स माफ़ी मांगते हैं ।

हमारे देश की असली टैक्स व्यवस्था का प्रारूप देता हूँ । आप बताइए कैसा है । और क्या ये आज के सिस्टम से बेहतर होगा या नही होगा ।

Also Read:  बैंक की कमाई समझ गए तो बैंक खाता बंद कर दोगे

1 देश से सभी प्रकार के टैक्स समाप्त किये जायें (सभी मतलब सभी ) सिवाय import टैक्स के ताकि हमारे देश की कम्पनियो को सस्ते विदेशी समान से नुक्सान न हो ।

2 आप कहेंगे टैक्स खत्म तो पैसा कहाँ से आएगा । अभी आएगा चिंता न करें पहले पूरा सुन व् समझ लें ।

3 अब देश में 100 रूपये से बड़े नॉट बन्द ( सारे बड़े नोट बन्द) अमरीका में 100 $ से बड़ा नोट नही है, इंग्लैंड में 50 पौंड से बड़ा नॉट नही है । इससे भ्रस्टाचार पर लगाम लगेगी व् नकली नोट का धंधा समाप्त होगा ।

4 एक और सिर्फ 1 टैक्स लागू । आपके पास अगर बैंक खाता है तो उसमें आने वाले (जाने वाले नही ) सिर्फ आने वाले पैसे पर 2 % टैक्स कटेगा । यानि आपकी साल भर की सैलरी आयी 12 लाख रूपये तो 24000 रूपये टैक्स कट जाएगा tds के रूप में और बाकी सैलरी का मजा लीजिये । और कोई टैक्स नही देना अब आपने ।

5 जब सब कुछ बैंक खातों से होगा क्योंकि 100 रूपये से बड़ा नॉट ही नही है । तो कोई भी काम 2 नम्बर में नही हो पायेगा । नतीजा कोई भी टैक्स की चोरी नही कर पायेगा । सबको टैक्स कटकर ही बैंक में पैसा मिलेगा ।

6 अब और समझो । आज के मौजूद सिस्टम में जिसमे आप और हम टैक्स ही टैक्स देते हैं जैसे रोड टैक्स गादी खरीदने पर, फिर टोल टैक्स गाडी चलाने पर, फिर पेट्रोल डीजल में 50% तक अलग अलग वैट एक्साइज सेल कई तरह की ड्यूटी टैक्स

Also Read:  No to All Taxes in India except 1 Tax of 2% BTT

यह सब खत्म हो जाएगा तो देश को 12 लाख करोड़ रूपये नही मिलेंगे ।

नये सिस्टम से 12 लाख करोड़ रूपये आएंगे क्या ?

आओ समझो

भारत के आज के मौजूद बैंक सिस्टम में rtgs (सिर्फ 2 लाख से ऊपर की लेन देन का डिटेल देखोगे तो पता चलेगा कि एक वर्ष में 600 लाख करोड़ रूपये आये या गये ) एक तरफ का ही बता रहा हूँ । यानि 600 लाख करोड़ पर 2% टैक्स मिलेगा तो 12 लाख करोड़ होता है । हो गयी टैक्स कलेक्शन ।

अब और समझो

पेट्रोल 1/2 रेट
Disel 1/2 रेट

क्योंकि कोई 50% टैक्स ही नही टी
रहा ।

सब ट्रांसपोर्ट सस्ता हुआ तो सब सामान सस्ता क्योंकि न कोई एक्साइज ड्यूटी न कोई सेल्स टैक्स न कोई वैट

न कोई खाते बनाने न किसी ca की जरूरत

न कोई return भरनी न कोई इनकम टैक्स ।

और समझो

आज भारत में कम ही लोग बैंक से कार्य करते हैं लेकिन कल जब 100 रूपये से बड़ा नॉट नही होगा तो सब कुछ बैंक से ही करना होगा तो बैंक का उपयोग बढेगा

यानि कम से कम 2 गुना होगा

तो सिरफ और सिर्फ 2 लाख से ऊपर वाली rtgs पर जब इतना टैक्स मिला आज तो कल को बैंक का काम दुगना हुआ तो 24 लाख करोड़ टैक्स मिलेगा ।

फिर क्या
उस पैसे से देश का कर्ज वापस होगा । डॉलर रुपया बराबर होगा ।

फिर आप भी विदेश में 5000 रूपये में सैर करके आ पाओगे ।

20 रूपये कमाने वाला गरीब 20 डॉलर के बराबर कमायेगा तो महंगाई खत्म , भोजन सस्ता । जो कमाता ही नही या जिस गरीब का बैंक ही नही उसको कोई टैक्स नही लगेगा ।

Also Read:  पढ़े लिखे समझदार 3

कोई सब्सिडी नही देनी ।

बताओ कहाँ समस्य है ।

अगर यही बैंक का कार्य 10 गुना बड़ा तो टैक्स होगा 120 लाख करोड़ रूपये । समझते हैं कि कितना होता है ये सब ।

तो इस सिस्टम में कमी बताओ और ले जाओ 5 करोड़ रूपये का इनाम ।

इसका नाम है arth kranti

Google kijiye

मोदी सरकार से निवेदन है
साथ ही चेतावनी है प्रधान सेवक को

की देश को 2019 से पहले
1 अर्थक्रांति टैक्स व्यवस्था चाहिए
2 गौ हत्या बन्दी चाहिए
3 कॉमन सिविल कोड चाहिए
4 डॉलर रुपया बराबर चाहिए
5 जम्मू कश्मीर पूरा भारत में चाहिए 370 हटाओ
6 हिन्दू राष्ट्र खोषित करो और देशद्रोहियों व् सुअरो को निष्कासित करो
7 धर्म परिवर्तन पर बन्दी
8 नग्नता और अश्लिता बन्द
9 गुरुकुल शिक्षा व्यवस्था
10 हिंदी व् देश की क्षेत्रीय भाषाएं लागू
11 अंग्रेजी कानून व् न्याय व्यवस्था समाप्त हो
12 सम्पूर्ण देश में 1 ही बार चुनाव हो । जनता सीधे चुने अपना प्रधान नेता । अपना प्रधान जज।
13 राईट तो रिकॉल नियम लागू हो
14 सरकारी नौकरों की जवाबदेही जनता को सीधे हो

और भी बहुत कुछ

आप 2019 से पहले मात्र अर्थक्रांति ही लागू कर दोगे तो भी हम समझेंगे की देश का आपने सबसे बड़ा काम (,टैक्स रिफार्म कर दिया )।।

समझ आया तो आगे भेजो

नही आया तो प्रश्न पूछो
www.arthakranti.org

Atul deshmukh ji se jinhone yh system bnaya …

5 करोड़ रूपये का इनाम दिया जायेगा गलती ढूंढ़ेने वाले को ।

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY