भारत और FDI

भारत और FDI

241
0
SHARE

अरुण जेटली ने FDI को दुगना करने की बात कही है, जो उनकी विदेशियों के पीछे भागने की निति को , और भारत के सेविंग्स डाटा के बारे में अनभिज्ञता / अज्ञानता को दर्शाता है।

FDI की भारत को कोई जरुरत नहीं है।
प्रस्तुत है पुरे डाटा और विश्लेषण के साथ भारत में FDI व् golabalisation की सच्चाई।
हम RTI का इस्तेमाल भी करेंगे इस डाटा को सरकारी विभागों से निकालन के  लिए।

9 पन्नों का यह कागज पढ़कर आप भी जान जायेंगे की क्या है FDI और भारत को इसकी कोई जरुरत क्यूँ नहीं है।

#StopFDIJaitley

https://www.dropbox.com/s/id6cgidsl9ysbad/%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E http://wp.me/p4zEDM-4

Also Read:  हिंदी में ब्लॉग क्यों न लिखें?

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY