जन्माष्टमी पर गौ दान

जन्माष्टमी पर गौ दान

199
0
SHARE

गाय माता के लिए दान देना जन्माष्टमी पर बहुत शुभ माना जाता है। आज के दिन बहुत से लोग टीवी पर कथा करवाते हैं और नतीजा लाखों करोड़ों रुपया दान में मिलता है।
कितने ही लोग आज के दिन पैसा बटोरते हैं और गाय पर एक रुपया भी खर्च नही होता। दान देने वाले के लिए ये बहुत जरुरी है की देखें की दान किसको दे रहे हैं, वो दान के पैसे का क्या कर रहे हैं ?
उनकी गौशाला की हालत कैसी है ? क्या वो गाय के लिए स्वावलंबी कार्य पर काम कर रहे हैं या सिर्फ दान ही माँगना चाहते हैं ??
क्या वो जर्सी गाय के दूध का कारोबार कर रहे हैं और देसी गौ का दूध कहकर बेच रहे हैं ? वो बायो गैस प्लांट क्यूँ नही लगवाते ? वो गोबर का क्या करते हैं ? वो जर्सी गाय के मूत्र से दवाई तो नही बना रहे??
नकली बाबा और नकली लोगों को दान मत दीजिये। इनको सजा दीजिये जो गाय के नाम पर जनता को मुर्ख बनाकर अपने लिए घर गाडी और विदेश यात्रा करते हैं। टीवी पर कथा करने के लिए 12 लाख से 20 लाख रूपये तक लगते हैं वो पैसा उसी दान में से आता है जो गौ माता के चारे के लिए दिया जाता है।

दान दीजिये लेकिन सिर्फ सुपात्र व्यक्ति को जो उसका उपयोग गौ माता के लिए ही करे।

दान देने से ही काम नही होगा, दान सही जगह लगा तभी सदगति है।

जय गौ माता जय गोपाल।

Also Read:  India had voted to become a republic but to remain in the Commonwealth.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY