केजरीवाल के अंधभक्तो अब तो जागो …

केजरीवाल के अंधभक्तो अब तो जागो …

247
0
SHARE

कजरी

सभी दोस्तों को आज एक ऐसा उदाहरण देंगे जिससे जो भी भाई लोग पहले राजीव दीक्षित जी या बाबा रामदेव के साथ जुड़े थे और बाद में केजरीवाल के झूठ में या भ्रम में फंसकर केजरीवाल को अपना देशभक्त और हितेषी समझने की भूल कर रहे हैं वो जाग जायेंगे .

जो अब भी इस बात को जानने के बाद भी केजरीवाल का ही समर्थन करेंगे उनको आप स्वयं तय करलें की वो क्या हैं …

राजीव दीक्षित जी गौ प्रेमी थे.. गाय से स्वराज की बात करते थे. जिनको भी लगता है की केजरीवाल उन जैसा ही है उनके लिए यह क्षण टेस्ट का है… अब तो केजरीवाल मुख्यमंत्री है.. वो भी दिल्ली जैसी राजधानी का.. तो क्यूँ न केजरीवाल दिल्ली में

  1. गौ हत्या पर प्रतिबन्ध लगाये (चाहे वो सिर्फ हिन्दू बहुसंख्यको की आस्था के लिए ही सही )
  2. गोबर गैस से चलने वाली गाड़ियाँ दिल्ली में बनवाए / चलवाए या फिर कम से कम एक विभाग बनाये जो जल्द से जल्द इस पर अपनी रिसर्च करे और दिल्ली को प्रदुषण से मुक्त करने के लिए compressed gobar gas को अपनाये.
  3. गाय को राज्य की माता का पद दिया जाए.
  4. दिल्ली में बिजली की समस्या, प्रदुषण की समस्या, पेट्रोल डीजल के दाम की समस्या, केंद्र पर निर्भरता खत्म हो सकती है, गौ माता से.. राजीव दीक्षित जी के अनुयायी तो यह सब जानते हैं. क्यूँ न कजरी को यह सब बताकर उससे यह सब करवाया जाये..

अगर राजीव दीक्षित जी मुख्यमंत्री होते तो क्या यह काम नही करते ? करते न … तो फिर कजरी को राजीव भाई जैसा समझने वालों, यह करवाकर दिखाओ आप… मान लेंगे हम भी की कजरी में है कुछ दम…

Also Read:  केजरीवाल भारत की कंपनियों के खिलाफ क्यूँ ?

नही तो अभी तक तो हम सिर्फ वही देखते आ रहे हैं की

दादरी में मुसलमान मरा तो कजरी वहां गया.. मालदा में मुसलमानों ने हिन्दुओ को पुलिस को मारा लेकिन केजरीवाल बोले तक नहीं..

JNU में अफजल गुरु जैसे उग्रवादियों के समर्थन में नारे लगे, भारत की बर्बादी के नारे लगे.. उनको भी केजरीवाल का समर्थन है… आखिर चाहता क्या है ये कजरी ? किस तरह का देशभक्त है ये ? मुल्ला परस्ती करना

हैदराबाद में एक देशद्रोही को दलित बताकर दलितों की राजनीती करने वाला आपका नेता कैसे हो सकता है ??

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY